मंगलवार, जून 25, 2024
होमआसपास-प्रदेशसशस्त्र सेना झण्डा दिवस: जिला सैनिक कल्याण अधिकारी ने कलेक्टर एवं एसएसपी...

सशस्त्र सेना झण्डा दिवस: जिला सैनिक कल्याण अधिकारी ने कलेक्टर एवं एसएसपी को लगाया फ्लैग, राष्ट्र रक्षा हेतु समर्पित सैनिकों का कार्य सदैव अविस्मरणीय-कलेक्टर कार्तिकेया गोयल

रायगढ़ (पब्लिक फोरम)। कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आज सशस्त्र सेना झण्डा दिवस का आयोजन किया गया। इस मौके पर कलेक्टर कार्तिकेया गोयल एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री सदानंद कुमार को जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कर्नल आशीष पाण्डेय के नेतृत्व में कल्याण संयोजक श्री बालकृष्ण राम एवं अधीक्षक श्री ए.के.वर्मा ने फ्लैग लगाकर सम्मानित किया। इस अवसर पर अपर कलेक्टर राजीव पाण्डेय, डिप्टी कलेक्टर रमेश मोर, एनसीसी के कमाण्डिग ऑफिसर कर्नल संतोष कुमार, शहीद कर्नल विप्लव त्रिपाठी के पिता सुभाष त्रिपाठी सहित जिले के भूतपूर्व सैनिक एवं दिवंगत सैनिकों के आश्रित उपस्थित रहे।

कलेक्टर श्री गोयल ने कहा कि भारतीय सेना की बहादुरी, त्याग व समर्पण के सम्मान में एवं वीर शहीदों की स्मृति में सशस्त्र सेना झण्डा दिवस मनाया जाता हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय राष्ट्र सेवा में समर्पित सैनिकों के कार्य सदैव अविस्मरणीय रहेंगे। राष्ट्र की रक्षा के लिए दिए गए उनके बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता। सैनिकों के साहस और वीरता से हमें देश प्रेम की सीख मिलती है। सशस्त्र सेना झंडा दिवस का यह दिन हमें सैनिकों और उनकी भावनाओं से जुड़कर राष्ट्र प्रेम के प्रति समर्पित रहने के लिए प्रेरित करता है। उन्होंने कहा कि देश की सेवा करने वालों के सहयोग के लिए हम सभी को हमेशा तत्पर रहना चाहिए। कलेक्टर श्री गोयल ने जिले के सभी नागरिकों से सशस्त्र झण्डा दिवस में शामिल होकर शहीद सैनिकों की विधवाओं, भूतपूर्व सैनिकों एवं सेना में सेवारत सैनिकों और उनके आश्रितों के पुनर्वास तथा कल्याणकारी योजनाओं के लिये अधिक से अधिक दान देकर इस पुनीत कार्य में अपनी सहभागिता प्रदान करने हेतु आग्रह किया।

 वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सदानंद कुमार ने कहा कि झंडा दिवस मनाने का उद्देश्य बहादुर और शहीद सैनिकों को सम्मान देना, बुजुर्ग सैनिकों तथा शूरवीरों को सैल्यूट करना तथा सेवारत सैनिकों के साथ समस्त राष्ट्र की एक जुटता को दर्शाता है। उन्होंने जिले में निवासरत सभी रिटायर्ट सैनिकों एवं उनके परिवारों को आश्वस्त किया कि आपकी किसी भी प्रकार की समस्या के लिए पुलिस एवं प्रशासन आपके समक्ष खड़ा है।

जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कर्नल आशीष पाण्डेय ने जानकारी देते हुए बताया कि पूरे भारत में प्रतिवर्ष 7 दिसम्बर को झंडा दिवस मनाया जाता है जो भारतीय सशस्त्र बलों के कर्मियों के कल्याण के लिए भारत की जनता से धन संग्रह के प्रति समर्पित एक दिन है। गहरे लाल, नीले और आसमानी रंग की स्टीकर को लगाकर लोगों से उनकी स्वेच्छा अनुसार राशि एकत्रित कर झंडा दिवस कोष में जमा कर दी जाती है। संग्रहित धन का उपयोग युद्ध के दौरान हुई जन हानि, युद्ध में शहीद हुये सैनिकों की विधवाओं, युद्ध के दौरान दिव्यांग सैनिकों व उनके परिवार के कल्याण एवं सेवा निवृत्त सैनिकों और उनके परिवार के कल्याण के लिए खर्च की जाती है। विदित हो कि दान की गई समस्त राशि आयकर अधिनियम की धारा के अंतर्गत आयकर से मुक्त होगी। जिले में दानराशि एकत्रित करने के लिए सभी शासकीय संस्थान, उद्योग, स्कूल एवं कालेज तथा प्राइवेट संस्थान को ध्वजों का वितरण किया जा चुका है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments