मंगलवार, जून 18, 2024
होमकोरबास्कूलो में विद्यार्थियों को टीकाकरण की तैयारी शुरू, 3 जनवरी से चलेगा...

स्कूलो में विद्यार्थियों को टीकाकरण की तैयारी शुरू, 3 जनवरी से चलेगा अभियान

हाई और हायर सेकेंडरी स्कूलों में चलेगा अभियान


कोरबा (पब्लिक फोरम)। राज्य सरकार द्वारा 3 जनवरी से 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों का कोविड-19 टीकाकरण प्रारंभ किया जाना है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के संचालक द्वारा इस संबंध में सभी सीएमएचओ एवं जिला टीकाकरण अधिकारियों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं। मुख्य सचिव छग शासन की अध्यक्षता में 30 दिसंबर को जिलों के साथ आयोजित वीडियो कांफ्रेंसिंग में लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग प्रमुख सचिव के निर्देशानुसार हाईस्कूल एवं हायर सेकेण्डरी स्कूलों में कोविड-19 टीकाकरण हेतु सत्र का आयोजन किया जाना है। इसके लिए आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने निर्देशित किया गया है।


स्कूलों और सत्र स्थलों पर प्रतिक्षा कक्ष, टीकाकरण कक्ष एवं टीकाकरण पश्चात निगरानी कक्ष निर्धारित किए जाएंगे। कमरों में सामान्यत: 2 दरवाजे एक प्रवेश व एक बाहर निकलने के लिए होने चाहिए। प्रतिक्षा कक्ष और निगरानी कक्ष में कुर्सियों के बीच 2 गज की दूरी, प्रतिक्षा कक्ष में हाथ धोने/सैनेटाइजेशन की सुविधा होनी चाहिए एवं कोविड व्यवहार से संबंधित आईईसी सामग्री प्रदर्शित करना होगा। टीकाकरण कक्ष में 4 गुणा 2 फीट का एक टेबल और 2 कुर्सियां, हाथ धोने व सैनेटाइजेशन की सुविधा, महिला लाभार्थी होने पर टीकाकरण के समय एक महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ता कमरे में मौजूद रहने, गोपनीयता सुनिश्चित करने हेतु एक समय में केवल एक लाभार्थी को टीकाकरण कक्ष में प्रवेश सुनिश्चित करने कहा गया है।


टीकाकरण कक्ष में लॉजिस्टिक्स उपलब्धता के निर्देश दिए गए हैं, यथा – कोवैक्सीन की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता, पर्याप्त सीरिंज, हैण्ड सेनेटाइजर एवं मास्क, हब कटर एवं निडिल डिस्ट्रायर, गोपनीयता हेतु पर्दे या स्क्रीन की उपलब्धता, एनाफैलेक्सिस किट, टीकाकरण पश्चात उत्पन्न जैव चिकित्सकीय अपशिष्टों के प्रबंधन हेतु लाल व काले रंग के थैलों की उपलब्धता, कोविड-19 टीकाकरण एवं कोविड व्यवहार से संबंधित प्रचार-प्रसार सामग्री।
निगरानी कक्ष में टीकाकरण पश्चात कम से कम 30 मिनट प्रतिक्षा व निगरानी दल हेतु पर्याप्त स्थान होना चाहिए। टीकाकरण पश्चात प्रतिकूल घटनाओं के प्रबंधन हेतु किट की उपलब्धता होनी चाहिए। यह सुनिश्चित किया जाए कि 15 से 18 वर्ष के समस्त लाभार्थी मास्क पहनकर ही टीकाकरण कक्ष में प्रवेश करें तथा अपनी पात्रता सुनिश्चित करने जन्मतिथि से संबंधी उचित दस्तावेज साथ लेकर आए।

प्रत्येक विद्यालय आधारित कोविड-19 टीकाकरण केन्द्र में संभावित प्रतिकूल घटनाओं के उचित प्रबंधन हेतु चिकित्सा अधिकारी की उपलब्धता सुनिश्चित हो। लाभार्थी का टीकाकरण सिर्फ कोविड पोर्टल के माध्यम से किया जाएगा। शिक्षा विभाग से समन्वय स्थापित कर 15 से 18 वर्ष के बच्चों का कोविड टीकाकरण किया जाना सुनिश्चित करने के निर्देश राज्य नोडल अधिकारी कोविड-19 टीकाकरण एवं मिशन संचालक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन नवा रायपुर के द्वारा दिए गए हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments