मंगलवार, जून 18, 2024
होमआसपास-प्रदेशरेल कॉरिडोर से प्रभावित लोगो ने ऊर्जाधानी संगठन को सुनाई अपनी समस्यायें

रेल कॉरिडोर से प्रभावित लोगो ने ऊर्जाधानी संगठन को सुनाई अपनी समस्यायें

1984 से काबिज, प्रभावित रेलवे में अर्जित होने से नहीं मिला मुआवजा

कोरबा/दीपका (पब्लिक फोरम)। कृष्णा नगर दीपका रेल लाइन को गेवरा पेंड्रा रेल कॉरिडोर से जोड़ने का काम शुरू हो गया है । प्रभावित लोगों ने ऊजाधानी भूविस्थापित किसान कल्याण समिति के सामने अपनी मुआवजा संबंधित समस्या को रखते हुए सहयोग करने की अपील किया है। समस्याओ को समझने के लिए ऊर्जाधानी सन्गठन के अध्यक्ष उनके बीच पहुंचे थे।

ज्ञात हो कि गेवरा पेंड्रा रेल कॉरिडोर का तेजी से काम करना शुरू कर दिए गया हैं इसी कड़ी में कोयला ढुलाई के लिए रेलवे विभाग द्बारा कृष्णानगर दीपका से रेल लाइन बिछाने का काम शुरू हो गया हैं कृष्णानगर दीपका के लगभग 42 परिवार रेलवे से प्रभावित हो रहे हैं जिसमें 16 परिवारों की मुआवजा को आवार्ड पारित होने व नापी सर्वे होने के बाद छोड़ दिया गया है ।

प्रभावितों का कहना है कि रेलवे व प्रशासन के अधिकारियों ने कृष्णानगर दीपका के प्रभावित परिवारों के मकान व परिसंपत्तियों का मूल्यांकन कर सर्वे कराया गया था जिसमें लगभग 42 परिवारों का मकान व परिसंपत्ति रेल कॉरिडोर में जोड़ने से प्रभावित हो रहे हैं जिसमें 16 परिवारों के बने मकान व परिसंपत्तियों का नापी सर्वे करने के उपरांत छोड़ दिया गया है उनका कहना है कि 1990-95 के मध्य दीपका के काश्तकार इतवारसिंह की निजी हक की जमीन को क्रय किया था जिसका बिक़रीनामा स्टाम्प में किया गया था किन्तु तंगी हालात और आपसी विश्वास से रजिस्ट्री नही करा पाए थे और उक्त भूमि पर मकान बनाकर अपने परिवार के साथ रोजी रोटी की व्यवस्था कर जीवन यापन कर रहे हैं।

यदि अपने काबीज भूमि से रेलवे विभाग के द्वारा बेघर कर दिया जाता है तो परिवार की रोजी रोटी जीवन यापन की गंभीर परिस्थिति से जुझना पड़ेगा लेकिन रेलवे के अधिकारी व प्रशासन मकानों की मुआवजा की जायज मांगों को अनसुना कर रहे हैं अधिकारियों द्वारा आश्वासन दिया जाता है कि मुआवजा का भुगतान जल्द किया जाएगा सालों से अधिकारियों की आश्वासन का झुनझुना दिया जा रहा है लेकिन काबीज भूमि पर मकानों का मुआवजा भुगतान अब तक नहीं किया गया है जरूरत पढ़ने पर आंदोलन के लिए बाध्य होंगे ।

ऊर्जाधानी संगठन के अध्यक्ष सपुरन कुलदीप ,के साथ ललित महिलांगे, सतीश चन्द्रा के प्रतिनिधत्व में प्रभावित लोंगो ने अनुविभागीय दंडाधिकारी कटघोरा से सौजन्य मुलाकात कर इस समस्या से अवगत कराते हुए समाधान निकालते हुए मकानों व परिसंपत्ति का मुआवजा दिलाने की मांग किया है । उन्होंने बताया कि रेलवे के अधिकारियों से इस सबध में स्पष्टीकरण लेकर कार्यवाही की जाएगी ।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments