मंगलवार, जून 18, 2024
होमरायपुरराजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने वेदांता प्रबंधन को चेताया

राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने वेदांता प्रबंधन को चेताया

” कहा, स्थानीय हितों के विपरीत जन विरोधी कार्यो पर तत्काल रोक लगाये बालको “

रायपुर/कोरबा (पब्लिक फोरम)। छत्तीसगढ़ के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने भारत एल्युमिनियम कंपनी लिमिटेड BALCO पर काबिज वेदांता के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं निदेशक अभिजीत पति को फटकार लगाते हुए वेदांता का छत्तीसगढ़ की जनता के साथ किए जा रहे वादाखिलाफी एवं स्थानीय हितों के विपरीत जन विरोधी कार्यो तथा रोजगार के मुद्दे पर स्थानीय बेरोजगारों की उपेक्षा के सवाल पर पत्र लिखकर चेतावनी देते हुए कहा है कि आपके द्वारा बालको का संयंत्र विस्तार योजना के अंतर्गत जन सुनवाई के दौरान खुले मंच से ये घोषणाएं की गई थी तथा संयंत्र विस्तार कार्य के लिए आपके द्वारा इस बात पर विशेष बल दिया गया था कि संपूर्ण कार्यों में स्थानीय लोगों को रोजगार प्रदान किया जाएगा।

जबकि इसके ठीक विपरीत आपके द्वारा महानगरों से बड़ी-बड़ी ठेका कंपनियों को सीधे कार्य आवंटित कर दिया गया इन कंपनियों के द्वारा अपना संपूर्ण सेटअप यहां तक कि कुशल अर्ध कुशल एवं सामान्य मजदूर भी बाहर से लाकर कार्य में नियोजित किया गया है। यहां तक कि स्थानीय स्तर पर छोटे-छोटे ठेकेदार जो निविदा के माध्यम से ठेका प्राप्त करके स्थानीय मजदूरों को काम देते थे वे सभी अब बेरोजगार हो गए हैं।

दर्री बांध के ध्यानचंद चौक से लेकर परसा भाटा तक की सड़क का निर्माण कार्य करने के बाद डामरीकरण का कार्य किया जाएगा ताकि भारी वाहनों के संचालन से आम नागरिकों को सुगम और सुरक्षित यात्रा की सुविधा प्राप्त हो सके जो कि आज तक प्रारंभ नहीं किया गया है।

साकेत भवन के पास तानसेन चौक से बालको तक की सड़क का मरम्मत व चौड़ीकरण करने की साथ ही डामरीकरण कराया जाएगा जिससे यात्रा करने वाले आम जनता के साथ सुरक्षित तरीके से आवागमन कर सकें इस दिशा में आज तक कार्य प्रारंभ नहीं किया गया है।

आपके बिजली संयंत्र से निस्तारित फ्लाई एश (राखड़) का निपटान नियमों का पूरी तरह से उल्लंघन करते हुए खुले वाहनों में परिवहन करते हुए बेतरतीब ढंग से ले जाया जा रहा है तथा जीवनदायिनी नदी नालों एवं सड़कों तथा जंगल विभाग की खुली जमीनों में नियमों के विरुद्ध डाल दिया जा रहा है। जिससे वायु एवं जल प्रदूषित हो रहा है इसकी वजह से स्थानीय लोगों के साथ ही सड़क पर चलने वाले आम नागरिक पूरी तरह से त्रस्त हो चुके हैं।

बालको संयंत्र के विस्तार परियोजना के लिए जनसुनवाई में आपके द्वारा उपरोक्त बिंदुओं पर जो वायदा किया गया था ठीक इसके विपरीत आप मुंबई दिल्ली जैसे महानगरों को मालामाल एवं स्थानीय लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं जिसका जनमानस में भारी विरोध है।

राजस्व मंत्री ने स्पष्ट करते हुए कहा है कि उपरोक्त बिंदुओं पर बालको के सीईओ अभिजीत पति व्यक्तिगत रूप से ध्यान देते हुए 15 दिनों के भीतर कार्यवाही किया जाना सुनिश्चित करें अन्यथा बालको को जन आक्रोश का सामना करना पड़ सकता है जिसकी वजह से बालको संयंत्र में तालाबंदी की स्थिति भी निर्मित हो सकती है और यदि ऐसी स्थिति निर्मित होती है तो इसके लिए संपूर्ण जिम्मेदारी बालको के वेदांता प्रबंधन की होगी।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments