मंगलवार, जून 25, 2024
होमकोरबानिगम क्षेत्र की विस्तारित बस्तियों में उपलब्ध कराई जाएगी पेयजल की सुविधा

निगम क्षेत्र की विस्तारित बस्तियों में उपलब्ध कराई जाएगी पेयजल की सुविधा

निगम का विशेष सम्मेलन संपन्न, बहुमत के साथ पारित किया गया पेयजल सुविधा का प्रस्ताव

कोरबा (पब्लिक फोरम)। नगर पालिक निगम कोरबा क्षेत्रांतर्गत पेयजल से विस्तारित बस्तियों में पेयजल की आपूर्ति व्यवस्था का कार्य शीघ्र किया जाएगा। आज नगर निगम कोरबा के विशेष सम्मिलन में पेयजल व्यवस्था से संबंधित उक्त प्रस्ताव को बहुमत के आधार पर पारित किया गया।

यहां उल्लेखनीय है कि कोरबा पेयजल आवर्धन योजना भाग-1 के अंतर्गत निगम के वार्ड क्र. 01 से वार्ड क्र. 43 तक तथा पेयजल आवर्धन योजना भाग-2 के अंतर्गत वार्ड क्र. 44 से वार्ड क्र. 67 तक के सभी वार्डो में पेयजल आपूर्ति व्यवस्था का कार्य पूर्ण किया जा कर बरसों की पेयजल की समस्या का निराकरण किया जा चुका हैं। निगम के कुछ विस्तारित क्षेत्र एवं बस्तियॉं ऐसी है जिनमें पेयजल की व्यवस्था किया जाना नितांत आवश्यक है, कार्य की महती आवश्यकता एवं पेयजल की ज्वलंत समस्या के निराकरण के मद्देनजर निगम का विशेष सम्मिलन आज प्रियदर्शनी इंदिरा स्टेडियम परिसर स्थित राजीव गांधी आडिटोरियम में आहूत किया गया था। सभा के समक्ष निगम क्षेत्र के विस्तारित बस्तियों में पेयजल आपूर्ति व्यवस्था कार्य हेतु 15वें वित्त योजना अंतर्गत डिस्ट्रीब्यूशन पाईप लाईन के विस्तार कार्य आदि के संबंध में 04 करोड़ 92 लाख रूपये का प्रस्ताव प्रस्तुत किया गया था।

सभापति श्री श्यामसुंदर सोनी की अध्यक्षता एवं महापौर श्री राजकिशोर प्रसाद व आयुक्त श्री कुलदीप शर्मा की उपस्थिति में सम्पन्न विशेष सम्मिलन में उक्त प्रस्ताव बहुमत के आधार पर पारित किया गया। प्रस्ताव के पारित होने से निगम क्षेत्र के विस्तारित क्षेत्रों व बस्तियों में पेयजल आपूर्ति की व्यवस्था का कार्य शीघ्र किया जा सकेगा तथा इन क्षेत्रों व बस्तियों में रहने वाले नागरिकों को शुद्ध पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित की जा सकेगी।

* प्रस्ताव का विरोध दुर्भाग्यपूर्ण

महापौर राजकिशोर प्रसाद ने बहुमत से उक्त प्रस्ताव पारित होने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा है कि अब निगम क्षेत्र के विस्तारित क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति व्यवस्था का कार्य शीघ्र होगा, वितरण पाईप लाईनें बिछाकर इन क्षेत्रों में पेयजल की आपूर्ति जल्द से जल्द की जा सकेगी। उन्होने कहा कि बैठक के दौरान भाजपा के कुछ पार्षदों द्वारा प्रस्ताव का विरोध किया गया, जो अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण हैं, यह जनहित एवं पेयजल समस्या से संबंधित प्रस्ताव था, जिसे सर्वसम्मति से पारित किया जाना था, किन्तु यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि जनहित से जुडे़ इस प्रस्ताव का भी उनके द्वारा विरोध किया गया।

महापौर श्री प्रसाद ने आगे कहा कि जनहित से जुडे़ मुद्दों पर सभी को सहयोग करना चाहिए तथा इसे राजनीतिक चश्में से नहीं देखना चाहिए, इस कार्य विशेष का टेण्डर राष्ट्रीय स्तर के समाचार पत्रों में विज्ञापन प्रकाशित कराया जाकर ई-टेण्डर के माध्यम से निविदाएं आमंत्रित की गई थी, जिसमें देश का तथा कोरबा जिले का कोई भी सक्षम ठेकेदार निविदा में भाग ले सकता था तथा इस कार्य हेतु प्राप्त न्यूनतम दरें प्रदेश में इस तरह के वर्तमान में चल रहे कार्यो में प्रचलित दरों से कम दरें प्राप्त हुई हैं, तदानुसार ही प्रकरण निविदा समिति तथा मेयर इन कांउसिल की अनुशंसा के पश्चात विशेष सभा के समक्ष रखा गया था, अतः बिना किसी आधार के निर्माण कार्य रोकने की मंशा से विरोधी पक्ष द्वारा प्रस्ताव का विरोध किया जा रहा था। उनके द्वारा स्वयं भी अपने-अपने वार्डो के विस्तारित क्षेत्रों में पेयजल की व्यवस्था किए जाने की मांग समय-समय की गई है तथा उनकी मांगों एवं आवश्यकता के अनुसार ही सभी बचे हुए क्षेत्रों को शामिल कर यह प्रस्ताव बनाया गया है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments