शुक्रवार, जून 14, 2024
होमआसपास-प्रदेशदादा हीरा सिंह मरकाम की प्रतिमा तोड़ने वाले 02 आरोपी गिरफ्तार: साजिशकर्ता...

दादा हीरा सिंह मरकाम की प्रतिमा तोड़ने वाले 02 आरोपी गिरफ्तार: साजिशकर्ता अभी भी बाहर

कोरबा (पब्लिक फोरम)। दिनांक 10-02-2022 को ग्राम गुरसियां बाजार में गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के संस्थापक दादा हीरा सिंह मरकाम जी का प्रतिमा स्थापित किया गया था जिसे दिनांक 17-18 फरवरी 2022 की रात्रि में रात किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा तोड़ दिया गया था। प्रार्थी गणेश मरपच्ची निवासी मानिकपुर गुरसियां के रिपोर्ट पर थाना बांगो में अपराध क्रमांक 27/2022 धारा 295 भादवि पंजीबद्ध कर विवेचना जा रहा था ।

मामले की गंभीरता एवं संवेदनशीलता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल द्वारा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक वर्मा के नेतृत्व तथा पुलिस अनुविभागीय अधिकारी कटघोरा ईश्वर त्रिवेदी के पर्यवेक्षण में जांच हेतु विशेष टीम का गठन कर अलग-अलग बिंदुओं पर जांच के निर्देश दिए गए ।

विशेष टीम द्वारा घटनास्थल एवं आसपास के ग्रामों का बारीकी से निरीक्षण कर सूचना संकलन किया गया , साथ ही स्थानीय मुखबिरों से संपर्क स्थापित कर संदिग्ध लोगों से पूछताछ एवं घटना दिनांक को घटनास्थल पर होने वाली प्रत्येक गतिविधि की बारीकी से पड़ताल की गई । सायबर सेल की टीम द्वारा तकनीकी विश्लेषण कर आरोपियो में बारे में सबूत एकत्र किए गए ।

जांच पर पाया गया कि आरोपी शिवम राजपूत पिता राजू परमाल बाजार मोहल्ला गुरसियां का जो कि पेशे से ड्राइवर है , दिनांक 17 फरवरी 2022 को गुरसियां निवासी बबलू सारथी के जन्मदिन में गया था जहां बबलू सारथी, भोले शंकर, अरुण कुमार, एक नाबालिक दोस्त एवं अन्य 10-15 लोगों के साथ तान नदी किनारे सभी लोगों ने जमकर पार्टी बनाया । रात में लगभग 8:30 बजे सभी लोग गुरसिया बस स्टैंड में आए और बंजारी तरफ से एक मोटरसाइकिल में आ रहे व्यक्ति के साथ गाली गलौज कर झगड़ा किया था फिर पांचों लोग मोटरसाइकिल में त्रिभुज के बेटे की शादी में शामिल होने चले गए थे ।

इसके बाद वापस आकर अरुण कुमार और शिवम राजपूत गुरसियां बाजार स्थल में जाकर रात्रि में दोनों शराब पिए, दोनों को शराब का नशा बहुत चढ़ गया था। अत्यधिक शराब के नशे में आवेश में आकर बाजार में स्थित स्व दादा हीरा सिंह मरकाम की प्रतिमा को तोड़ दिया और वापस अपने घर आ गए। गिरफ्तार आरोपियों में शिवम राजपूत उर्फ छोटका पिता राजू परमाल उम्र 24 वर्ष साकिन बाजार मोहल्ला गुरसियां तथा अरुण कुमार उर्फ सोनू पिता संतोष कुमार उम्र 26 वर्ष साकिन चपराहीपारा चैतमा थाना पाली का नाम शामिल है।

चर्चा है कि दोनों आरोपियों ने अपने बयान में बताया है कि मास्टर माइंड भोला गोस्वामी, लक्ष्मी अग्रवाल, राजेश जायसवाल, भरत अग्रवाल, मोहन अग्रवाल आदि के कहने पर इस अपराधिक कृत्य को अंजाम दिया गया। फिलहाल इस मामले में 02 आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है।

इधर गोंडवाना गणतंत्र पार्टी की केंद्रीय कमेटी ने पुलिस प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा है कि पुलिस प्रशासन तथाकथित साजिशकर्ताओं को आखिरकार क्यों बचाना चाहती है यह समझ से परे है। गोंगपा ने कहा है कि प्रतिमा के तोड़े जाने के सवाल पर उग्र आंदोलन के भय से बांगो पुलिस आधी-अधूरी विवेचना कर कार्यवाही की महज औपचारिकता पूरी कर रही है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments