मंगलवार, जून 18, 2024
होमदेशजनगणना 2021: अब तो जागो मूलनिवासी

जनगणना 2021: अब तो जागो मूलनिवासी

गुजरात (पब्लिक फोरम) । झारखंड राज्य द्वारा भारत के सभी मूलवासियों को “आदिवासी सरना” धर्म कोलम में शामिल करने की मांग की है वह भारत देश के सभी मूलवासी आदिवासियों के लिए सही नहीं है ।

हम आदिवासी कबिलाई परंपरा से जुड़े हैं, हम धर्मपूर्वी संस्कृति के प्रकृति पूजक एवं रक्षक आदिवासी हैं ।

हम चाहते हैं कि समग्र भारत के मूलवासियों की जनगणना “आदिवासी/TRIBE” कोलम में होनी चाहिए। ना कि ‘आदिवासी सरना’ के नाम से ।

अगर पुरे भारत देश में धर्म आधारित जनगणना होती है तो हमारी मांग है कि हमारी गिनती 1941 में की गई जनगणना की तरह “आदिवासी/ TRIBE” कोलम में होनी चाहिए ।

” सभी आदिवासियों के लिए संदेश “

1. हम भारत देश के मूलवासी है यह हमें याद रखना है।

2. जनगणना की शुरुआत 1871 से हुई तब से लेकर 1941 तक जनगणना में भारत के सभी आदिवासियोंकी अलग-अलग नाम से गिनती की गई है, हमारी मांग है कि जनगणना 2021 में हमारी पहचान और जनगणना 1941 की तरह *आदिवासी/TRIBE* नाम से होनी चाहिए।

3. हम सभी आदिवासी अलग-अलग कबिलाई समुदाय से हैं पर हम सब धर्मपूर्वी संस्कृति के प्रकृति पूजक एवं रक्षक हैं और आदिवासियत विचारधारा से जुड़े हैं।
हमारे आस्था के प्राकृतिक स्थानकों / स्थान / स्थल भले ही अलग-अलग हैं पर हम सभी आदिवासी समुदाय के ही हैं ।

4. हमें धर्म कोड नहीं परन्तु जनगणना हेतु “आदिवासी / ट्राइबल” कोलम चाहीए। क्युं की हम धर्मपूर्वी संस्कृति के हैं और कीसी भी मानव-निर्मित धर्म से जुड़े नहीं है, हम प्रकृति पूजक है। इसलिए हमारी जनगणना *आदिवासी / ट्राइबल (TRIBE)* नाम से ही होनी चाहिए ।

अगर जनगणना धर्म आधारित होती है तो 1 से 6 धर्म के बाद 07 कोलम में हमारी *आदिवासी / ट्राइबल* नाम से गिनती हो ।

5. हम प्राकृतिक तत्वों को और पुरखों की पूजा करते हैं, हम किसी माता-पिता से पैदा हुए मनुष्य को भगवान नहीं मानते, या कीसी मनुष्य से स्थापित किया गया धर्म-संप्रदाय को नहीं मानते ।

हमें *हिन्दू, मुस्लिम, ईसाई, बौद्ध, शीख, जैन* धर्म से कोई ताल्लुकात नहीं है, *हम आदिवासी समुदाय से हैं और “आदिवासी / TRIBE” नाम से ही जनगणना में हमारी गिनती होनी चाहिए ।*

यह बात को समझने की हमें जरूरत है।

भारत देश के सभी मूलवासी, आदिवासियों के सभी राज्यों के सभी व्यक्तियों को, सभी समुदायों के संगठनों और समितियों के पदाधिकारियों को गुजारिश है कि यह पत्र भारत के जनगणना के पंजीयक को निम्नांकित पते पर भेजें।

*Office of The Registar General and Census Commissioner, India*
*NDCC-II Bldg, Jai Singh Road,*
*New Delhi -110001 (INDIA)*
Tel. Nos: . +91-11-23438284, 23438120
Fax No : +91-11-23438121
E-mail ID (s): rgi.rgi@nic.in

रजिस्ट्रार को पत्र individual या Social Organization के द्वारा भी पत्र लिखकर Register AD से पोस्ट आफिस या कुरियर के द्वारा हमें तुरंत ही भेज देना होगा।

हमारे पास अब ज्यादा वक्त नहीं है, बस अब जाग जाइए और सब को जगाइए।

हमें अपने हर गांव से *रजिस्टार जनरल एवं जनगणना कमिश्नर, दिल्ली* को तुरंत पत्र लिखकर भेजना है । (आलेख: अरूणकुमार चौधरी। वडोदरा, गुजरात)

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments