होमकोरबाकोविड वैक्सीनेशन महा अभियान संपन्न: एक दिन में एक लाख से अधिक...

कोविड वैक्सीनेशन महा अभियान संपन्न: एक दिन में एक लाख से अधिक लोगों को लगाया गया कोविड का टीका; कोरबा जिले ने बनाया वैक्सीनेशन का नया रिकॉर्ड

” रंग लाई कलेक्टर श्रीमती साहू की पहल, कलेक्टर ने अधिकारी-कर्मचारियों को दी बधाई “

* जिले में 562 वैक्सीनेशन सेंटरों में शहर के साथ वनांचलों के लोगों ने भी लगवाया वैक्सीन

कोरबा (पब्लिक फोरम)। कलेक्टर श्रीमती रानू साहू की पहल पर कोरबा जिले में आज आयोजित कोविड वैक्सीनेशन महाभियान पूरी तरह सफल रहा। कोरबा जिले में 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को कोरोना का टीका लगाने के इस कोविड वैक्सीनेशन महाभियान में जिले वासियों ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया। कोरोना को हराने की लड़ाई में बड़ी संख्या में 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों ने वैक्सीनेशन सेंटर तक जाकर कोविड के टीके लगवाए। कोविड वैक्सीनेशन के लिए जिले के शहरी क्षेत्र से लेकर दूरस्थ वनांचल क्षेत्र के लोग उत्साहित रहे। समाचार लिखे जाने तक कोविड वैक्सीनेशन महाभियान के दौरान जिले में करीब 90 हजार 424 लोगों को एक ही दिन में कोविड का टीका लगाया जा चुका है। कलेक्टर श्रीमती साहू ने एक दिन में इतनी अधिक संख्या में लोगों को कोरोना का टीका एक साथ लगाने के अभियान की सफलता पर स्वास्थ्य, पंचायत एवं ग्रामीण विकास सहित इस अभियान से जुड़े अधिकारी-कर्मचारियों को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं।

समाचार लिखे जाने तक पहली और दूसरी दोनों डोज मिलाकर ग्रामीण इलाकों में 70 हजार 374 और शहरी क्षेत्र में 20 हजार 050 लोगों को कोविड का टीका लगाया गया है। वैक्सीनेशन सेंटरों पर देर शाम तक लोगों की बड़ी संख्या में मौजूदगी है, जिन्हें आज ही देर शाम तक टीका लगाया जाएगा। जिले में कोविड वैक्सीनेशन के लिए 562 वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गए है। इन सेंटरों पर 636 वैक्सीनेटर लोगों को कोविड टीका लगाने के लिए देर शाम तक डटे हैं। टीकाकरण के इस महाभियान में स्वास्थ्य तथा प्रशासन के साढ़े तीन हजार से अधिक अधिकारी-कर्मचारियों की भी सहभागिता रही। सबसे अधिक कोरबा के शहरी क्षेत्र मे 20 हजार 050, कोरबा ग्रामीण में 11 हजार 652, कटघोरा क्षेत्र में 12 हजार 391, करतला में 11 हजार 021, पाली में 19 हजार 012 एवं पोड़ी-उपरोड़ा क्षेत्र में 16 हजार 298 लोगों को कोविड रोधी वैक्सीन लगाया गया है। कोविड वैक्सीनेशन के लिए मोबाइल टीम भी दिन भर सक्रिय रही। शहरी क्षेत्रों सहित दूर दराज के ग्रामीण इलाकों में भी मोबाइल टीम द्वारा समूह में इकट्ठे लोगों को कोविड टीका लगाया गया। कोविड वैक्सीनेशन महाभियान के दौरान युवा, बुजुर्ग, गर्भवती सहित शिशुवती माताएं भी उत्साहित होकर टीकाकरण केन्द्र पहुंचकर कोविड टीका लगवाया।

* महापौर सहित जनप्रतिनिधियों ने भी निभाई सहभागिता

टीकाकरण के इस महाभियान में शासकीय अमले के साथ-साथ जनप्रतिनिधियों ने भी अपनी सक्षम सहभागिता निभाई है। शहर में महापौर श्री राजकिशोर प्रसाद ने कई टीकाकरण केन्द्रों का मुआयना किया और लोगों को कोरोना से बचने के लिए स्वयं टीका लगवाने तथा अपने स्नेहीजनों को भी टीका लगवाने के लिए प्रेरित किया। महापौर ने जिला प्रशासन की इस पहल को सराहा और कहा कि जल्द ही कोरबा जिला भी कोरोना टीकाकरण के मामले में शत-प्रतिशत वैक्सीनेटेड जिले की श्रेणी में शामिल हो जाएगा। इसी तरह नगर निगम आयुक्त श्री कुलदीप शर्मा ने रामपुर से लेकर सीतामढ़ी तक लगभग सभी टीकाकरण केन्द्रों का दौरा किया। उन्होंने टीका लगवाने आए लोगों से सहृदयता से बातचीत की और उन्हें कोविड टीके के फायदे बताते हुए टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित किया। इस दौरान नगर निगम आयुक्त ने जिले भर में इस अभियान से जुड़े स्वास्थ्य कर्मियों और अन्य सभी शासकीय अधिकारी-कर्मचारियों की जमकर हौसला अफजाई की तथा उन्हें निर्धारित लक्ष्य पाने के लिए प्रोत्साहित किया।

* टीकाकरण महाभियान में मोबाइल मेडिकल यूनिट जमकर दिया साथ, गांव-गांव पहुंच लोगो को किया जा गया वैक्सीनेट, टीकाकरण केंद्र तक नहीं पहुंच पाए लोगो के लिए हुई आसानी

कोरोना के खिलाफ लड़ी जा रही कोरबा जिला प्रशासन की लड़ाई में मोबाइल मेडिकल यूनिट का बड़ा सहारा मिला । टीकाकरण महाभियान में लोगो को गांव से केंद्र तक आने में परेशानी न हो इसके लिए मोबाइल यूनिट द्वारा पूरे जिले के कई गांवो में घूमकर मौके पर ही 25-30 लोगो का टीकाकरण किया गया। इसी के तहत मेडिकल टीम के क्षेत्र भ्रमण के दौरान उन्होंने देखा कि विकासखण्ड पोड़ी-उपरोड़ा के अंतर्गत आने वाले गांव खोड़री के 25-30 लोग कोविड वैक्सीन लगवाने के लिए टीकाकरण केन्द्र रांवा जा रहे थे। मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लीनिक मोबाइल मेडिकल यूनिट की टीम ने बड़ी संख्या में लोगों को टीका लगवाने जाते देख लोगों को एक जगह पर रूकवाकर टीका लगाया। लोगों को ग्राम लहंगाबहरा के हाटबाजार स्थल में निर्मित वनोपज संग्रहण केन्द्र में लोगों को बुलाकर आवश्यकतानुसार कोविड का पहला और दूसरा टीका लगाया गया।

टीका लगवाने जा रहे लोगों के समूह में शामिल ग्राम खोडरी के निवासी 45 वर्षीय श्री सम्मार सिंह ने हाट बाजार स्थल में अपना पहला कोविड टीका लगवाया। खोडरी की ही निवासी 53 वर्षीय श्रीमती रामबाई ने भी पहला डोज लगवाया। टीका लगवाने वाले ग्रामीणों ने बताया कि टीका लगवाने टीकाकरण सेंटर पैदल जा रहे थे, मेडिकल यूनिट टीम द्वारा एक जगह पर सभी को टीका लगा दिये जाने के कारण दूर सेंटर जाने से राहत मिली है। उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी की भयावहता को देखते हुए सभी ग्रामीणजन जागरूक होकर कोविड रोधी टीका लगवाए हैं। कोरबा जिले में कोविड वैक्सीनेशन महाभियान के लिए 562 केंद्र बनाए गए थे। लोगों को टीका लगाने की सहूलियत के लिए मोबाइल मेडिकल टीम भी लोगों के समूह के पास जाकर टीका लगाने का काम किए।

* टीकाकरण महा अभियान को लेकर वनांचलों में भी रहा भारी उत्साह, दुधमुँहे बच्चे के साथ पहुंची महिलाएं, तो दूसरी डोज़ से छूटे बुजुर्ग भी पहुंचे केंद्र, कोरोना को हराने के मंत्र के साथ वैक्सीनेशन का कार्य युद्ध स्तर पर रहा जारी

कोविड टीकाकरण महाअभियान को लेकर जिले के मैदानी सहित वनांचल क्षेत्र के लोगों में भी भारी उत्साह रहा। लोग कोविड-19 टीका लगवाने के लिए भारी संख्या में टीकाकरण स्थल तक पहुंचे। विकासखंड पोड़ी उपरोड़ा के दूरस्थ वनांचल गांव तुमान में बनाए गए वैक्सीनेशन सेंटर में स्वस्फूर्त लोग दूर-दूर से टीका लगवाने के लिए आए। तुमान के सेंटर में ग्राम मेनगढ़ी से श्रीमती सरिता भी अपने दूधमुँहे बच्चे को लेकर उत्साह के साथ टीका लगवाने पहुंची। उन्होंने सेंटर में आकर अपना पहला टीका लगवाया। सरिता अपने साथ अपनी जेठानी को भी लेकर आई। सरिता की जेठानी श्रीमती सुनीता ने भी अपना पहला कोविड टीका तुमान के वैक्सीनेशन सेंटर में लगवाया। सुनीता ने बताया कि उनके घर में उनके बुजुर्ग सास ससुर ने पहले ही टीका लगवा लिये है। दोनों देवरानी- जेठानी की तबीयत खराब होने की वजह से उन्होंने अभी तक टीका नहीं लगवाए थे। अब स्वस्थ होने के बाद कोविड वैक्सीनेशन के महाअभियान में शामिल होकर टीका लगवाए हैं।

* स्काउट गाइड की कोविड टीकाकरण महाअभियान में सहभागिता

गुरुवार को कोविड- 19 टीकाकरण महाअभियान में भारत स्काउट्स एवं गाइड्स, जिला कोरबा ने भी अपनी सहभागिता दी। कब, बुलबुल, स्काउट्स, गाइड्स, रोवर्स, रेंजर्स दलों ने स्थानीय स्तर पर घर- घर दस्तक देकर ऐसे लोगों की जानकारी एकत्र की जिन्होंने टीका नहीं लगवाया है अथवा जिनका दूसरा टीका लंबित है। ऐसे लोगों से टीका लगवाने आग्रह किया गया। इसके पूर्व 14 नवम्बर को बाल दिवस के अवसर पर जिलेभर के स्काउट्स, गाइड्स दलों ने कोविड- 19 संपूर्ण टीकाकरण जागरूकता रैली निकाली थी।* कोविड के कारण हुए ब्रेन स्ट्रोक से लगा लकवा, अब टीका लगवा दे रहे बचाव का संदेश, टीपी नगर के अमृत पटेल बने मिसाल

* कोविड के कारण हुए ब्रेन स्ट्रोक से लगा लकवा, अब टीका लगवा दे रहे बचाव का संदेश, टीपी नगर के अमृत पटेल बने मिसाल

कोरबा शहर के टी पी नगर निवासी अमृत पटेल स्वयं कोविड संक्रमित होने के बाद लोगो को कोरोना से बचने के लिए वैक्सीनेशन का महत्व बता रहे हैं। जिले में कोविड टीकाकरण महा अभियान के दौरान कोविड टीका लगाने टैगोर उद्यान वैक्सीनेशन सेंटर पहुचे श्री पटेल ने बताया कि कोविड के दूसरी लहर के दौरान वे संक्रमण की चपेट में आ गए थे। संक्रमण के दौरान उनको ब्रेन स्ट्रोक हो गया था, जिसके कारण उनका शरीर लकवा से ग्रसित हो गया। लकवा के कारण चलने और बात करने में परेशानी होने लगी। वे केंद्र की सीढ़ी नहीं चढ़ पा रहे थे तो टीकाकरण केंद्र के द्वार पर आकर वेक्सीनेटर ने उन्हें टीका लगाया। आज टीका लगवाने के बाद श्री पटेल ने बताया कि कोविड बहुत बड़ी महामारी है। इससे सबको बचने के लिए कोविड टीका जरूर लगाना चाहिये। उन्होंने कहा कि कोविड के कारण ही मैं लकवा से ग्रसित हो गया। मेरी जैसी स्थिति किसी की भी न हो, इसलिए सभी लोग कोविड टीका अवश्य लगवाएं। श्री पटेल कोविड से बचाव के लिए टीके को ही एकमात्र साधन बताते है और अपने और अपने स्नेहीज़नो की कोविड से सुरक्षा के लिए सभी को टीका लगाने की सलाह दे रहे हैं।

* कोरबा ज़िले में कोविड वैक्सिनेशन का नया रिक़ार्ड बना

अभी तक जिले में 01 लाख 05 हजार 752 लोगो का टीकाकरण,
शहरी क्षेत्र में 20100 और ग्रामीण इलाक़ों में 85652 लोगों को लगा कोविड टीका
शहरी – 20100
कोरबा – 16123
कटघोरा – 9298
करतला – 17194
पाली -21706
पोड़ी-उपरोड़ा – 21331
लोगो को लगा कोरोना का टीका
आज अंतिम समय तक जिले के दो विकासखंडों में अभी भी टीकाकरण जारी है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments