मंगलवार, जून 18, 2024
होमकोरबाएसईसीएल, गेवरा व दीपका के ट्रांसपोर्ट कम्पनियों में ऊर्जाधानी संगठन ने दी...

एसईसीएल, गेवरा व दीपका के ट्रांसपोर्ट कम्पनियों में ऊर्जाधानी संगठन ने दी दस्तक

70 फीसदी क्षेत्रीय बेरोजगारों को देना होगा रोजगार

कोरबा:दीपका/गेवरा (पब्लिक फोरम)। ऊर्जाधानी भुविस्थापित किसान कल्याण समिति ने एसईसीएल के खदानों में ओवर बर्डन , मिट्टी हटाने और कोल ट्रांसपोर्टेशन के ठेका कम्पनियो में खदान प्रभावित क्षेत्र के ड्राइवरों , हेल्पर, सुपरवाइजर ,मेंटेनेंस आदि की भर्ती में 70 प्रतिशत आरक्षित रखने की मांग किया है ।

आज संगठन के पदाधिकारियों ने बड़ी संख्या में स्थानीय बेरोजगारों के साथ गेवरा और दीपका क्षेत्र के कैंप में ठेका कम्पनियो की कार्यलय में पहुंचकर स्थानीय अधिकारी को अपनी मांगों का ज्ञापन के साथ बेरोजगारों की सूची सौपते हुए स्पष्ट शब्दों में चेताया है कि यदि खदान और इसके आसपास के स्थानीय बेरोजगारों को काम पर नही रखा जाएगा तो कंपनी को काम करने ही नही दिया जाएगा । इससे पहले एसईसीएल के अधिकारियों को ठेका कम्पनियो में नियोजित करने के लिए पत्र दिया जा चुका है ।

ऊर्जाधानी संगठन रोजगार, मुआवजा और पुनर्वास से संबंधित समस्याओं के खिलाफ अनवरत सँघर्ष चला रही है तथा विस्थापित होने वाले परिवार के सभी बालिग को रोजगार की मांग कर रही है । 2012 में कोल इंडिया पालिसी लागू करने के कारण रोजगार से वंचितों को वैकल्पिक रोजगार की व्यवस्था के लिए एक ओर समस्त ठेका कार्यो में भुविस्थापितों को आरक्षण देने के साथ ही नियोजित ठेका कंपनियों में तकनीकी कामगारो को छोड़कर सभी पदों पर स्थानीय बेरोजगारों की भर्ती के लिए एसईसीएल को मजबूर किया गया है । गौर तलब है अभी जिले के सभी परियोजना में भुविस्थापितों को प्राथमिकता दी जा रही है ।

ऊर्जाधानी संगठन के अध्यक्ष सपुरन कुलदीप ने बताया है कि प्रबन्धन और ठेका कम्पनियो को बेरोजगारों की सूची सौपी गयी है तथा बाहर से बुलाकर काम पर रखने का विरोध किया गया है । भविष्य में टेंडर में ही परियोजना प्रभावितो के लिए आरक्षण सुनिश्चित करने की मांग की जाएगी । उन्होंने बताया कि कलेक्टर कोरबा और बोर्ड ऑफ डायरेक्टर के सदस्यों के साथ हुई बैठकों में युवा बेरोजगारों महिला समितियों को सीएसआर से स्वरोजगार की व्यवस्था कराने का निर्णय पारित हो चुका है ।

उन्होंने कहा है कि इस वित्तीय वर्ष में सभी क्षेत्रों में भुविस्थापितों को एक एक करोड़ के गैर माइनिंग कार्य का ठेका दिया जाएगा यह एक इतिहासिक फैसला कराने में संगठन को जीत मिली है साथ ही रोजगार के पुराने मामलों के निराकरण करने अंतिम चरण में कार्य हो रहा है । बहुत जल्द हमारी संगठन कोरबा कलेक्टर के साथ बैठक कर अन्य विषयों पर सार्थक प्रयास किया जाएगा ।

आज के कार्यक्रम के दौरान कोर कमेटी मेम्बर श्यामू जायसवाल , सचिव विजयपाल सिंह तंवर , रुद्रदास महंत गेवरा क्षेत्रीय अध्यक्ष संतोष दास महंत उपाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर , कोरबा संयोजक गजेन्द्र ठाकुर जिला मीडिया प्रभारी ललित महिलांगे , दशरथ बिंझवार गोपाल बिंझवार बसंत कुमार कश्यप पवन कुमार यादव मुकेश कुमार यादव गणेश ऊइके राहुल बंजारे राजराम जगदीश यादव रामकुमार केवट अनसुईया राठौर दिलहरण महंत संदीप कंवर संतोष चौहान शीतल कुमार लहरें सैकड़ों बेरोजगार साथी उपस्थित थे ।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments